Kiosk banking क्या है तथा इसे शुरू कैसे शुरू करे?

आज का हमारा यह आर्टिकल उन लोगों पर आधारित है जो किओस्क बैंकिंग करना चाह रहे हैं. आज आप हमारे इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे कि Kiosk banking क्या है (What is Kiosk Banking in Hindi) तथा इसे शुरू कैसे करें?

किओस्क बैंकिंग के द्वारा लोगों को बैंकों की सारी सुविधाएं प्रदान की जाती है जिसके माध्यम से लोग अपने बैंक की सारी क्रियाकलाप को  बैंकिंग के माध्यम से कर सकते हैं. इसलिए आज हम आपके लिए Kiosk Banking की सारी डिटेल्स इस आर्टिकल के माध्यम से लाए हैं.

Kiosk banking क्या है – What is Kiosk banking in Hindi?

किओस्क बैंकिंग एक ग्राहक सेवा केंद्र है जिसके माध्यम से बैंक की सारी क्रियाकलाप की सुविधाएं ग्राहक को इसी केंद्र के माध्यम से दी जाती है.

आजकल कई ऐसे ग्रामीण इलाकों में किओस्क बैंकिंग को खोला जा रहा है जिससे ग्राहक बिना बैंक जाए इस शाखा की मदद से अपने बैंक  के सारे कार्य कर सकते है.

इस केंद्र में एक इंटरनेट की मशीन होती है जो एटीएम के समान होती है लेकिन एटीएम के जैसा कार्य नहीं करती अर्थात एटीएम में सिर्फ पैसे निकाले जाते हैं बल्कि इस मशीन के द्वारा ग्राहक पैसे निकालने के साथ-साथ पैसे किसी अदर अकाउंट में भेजे भी जाते है.इसलिए इस मशीन के द्वारा दोनों प्रकार के कार्य को किया जाता है.

यदि किसी ग्राहक के घर से बैंक ज्यादा दूर पड़ती है तो वह ग्राहक किओस्क बैंक की शाखा में जाकर पैसा निकालने के साथ-साथ पैसे लगवा भी सकते हैं. इस बैंकिंग के जरिए ग्राहकों को ज्यादा दूरी तय नहीं करनी पड़ती और आसानी पूर्वक बैंक के कार्य इसके जरिए कर सकते हैं.

Kiosk banking के जरिए कैसे कम किया जाता है?

यदि आप किओस्क  बैंकिंग अपने क्षेत्र में खोलना चाह रहे हैं इसके लिए आप इस बैंकिंग की सारी डिटेल्स जान ले तब आप इस बैंकिंग को खोलकर अच्छे तरीके से चला पाएंगे.

यदि आप किओस्क बैंकिंग अपने क्षेत्र में खोलते हैं तो आपको अपने ग्राहकों की अकाउंट बिना पैसा लिए खुलवाना होगा और इसके लिए आपको अपने ग्राहकों की फिंगरप्रिंट और फोटो लेनी होगी तथा  इसके पश्चात अपने संबंधित बैंक में उनकी डिटेल सबमिट करनी होगी और इस प्रकार उनका खाता खुल जाएगा.

जब आपके ग्राहक की खाता खुल जाएगी तो वह ग्राहक आपके शाखा के माध्यम से पैसे निकालने के साथ-साथ किसी के अकाउंट में पैसे लगवा भी सकते हैं. इसके साथ-साथ बैंक से संबंधित सारी क्रियाएं किओस्क बैंकिंग के माध्यम से कर सकते हैं.

किओस्क बैंक का नियम यह है कि आप अपने खाता में इस शाखा के जरिए अधिकतम 50 रुपए जमा कर सकते हैं इससे अधिक रकम जमा करने के लिए आपको बैंक जाने होंगे.

वहीं दूसरी और किओस्क बैंक के माध्यम से आप  अधिकतम ₹10000 ही निकाल सकते हैं यदि आपको इस रकम से ज्यादा रुपए निकालने हैं तो इसके लिए आपको किओस्क बैंक ना जाकर बैंक जाना होगा तभी आप 10,000 से ज्यादा रुपए निकाल सकते हैं.

 Kiosk banking कौन खोल सकता है?

किओस्क बैंकिंग सेवा केंद्र है जो ग्रामीण इलाकों में खोला जाता है ताकि ग्राहक बैंक ना जाकर इस किओस्क बैंकिंग के माध्यम से अपने बैंक की सारी क्रियाकलाप कर सकें.

सरकार इसके लिए बैंक मित्र की नौकरी की वैकेंसी निकलती है लेकिन सिर्फ बैंक मित्र वाले लोग ही इस Kiosk Banking को ही खोल नहीं सकते बल्कि सरकार उन लोगों को भी इस बैंक को ग्रामीण क्षेत्रों में या अन्य ऐसे क्षेत्र जहां से बैंक बहुत दूर है.

उन क्षेत्रों में किओस्क बैंकिंग खोलने की अनुमति दी है जिसकी आयु लगभग 18 वर्ष हो और जो बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण हो.

यदि आपमें इन सारी योग्यताएं हैं तो आप भी किसी भी क्षेत्र में किओस्क बैंकिंग खोल कर ग्राहकों को सेवा प्रदान कर सकते हैं.

अगर आप इस के योग्य हैं और आपको किओस्क बैंकिंग खोलना चाह रहे हैं तो आपके पास लगभग एक सौ से 200 वर्ग स्क्वायर फीट जमीन होनी चाहिए जिसमें आप किओस्क बैंकिंग खोलकर ग्राहकों को बैंक की सारी सुविधाएं दे सकते हैं.

किओस्क बैंकिंग के लिए जगह का चुनाव:-

किओस्क बैंकिंग वैसे जगहों पर खोली जाती है जिस इलाके में बैंक उपस्थित नहीं रहता अर्थात जिस गांव में बैंक नहीं है उन गांव में किओस्क बैंकिंग की सेवा दी जाती है जिससे लोग बैंक की सारी क्रियाएं इस किओस्क बैंकिंग के माध्यम से कर सकें.

यदि आपके क्षेत्र या गांव में बैंकों की सुविधा नहीं है तो आपके भविष्य के लिए किओस्क बैंकिंग बहुत ही उत्तम विकल्प है.

अगर आप अपने गांव या क्षेत्र में किसके बैंकिंग खोलते हैं तो आप अधिक से अधिक धन कमा सकते हैं. इसके साथ साथ आपके गांव के लोगों को बैंक के लिए ज्यादा दूरी तय करने की आवश्यकता नहीं होगी जिससे उनका टाइम और पैसा दोनों बचेगा.

सरकार किओस्क बैंकिंग की सुविधाएं अनेक प्रकार से देती है जिनका आप लाभ उठाकर अपने क्षेत्र में कष्ट बैंकिंग खोल के लोगों को बैंकिंग की सुविधाएं प्रदान कर सकते हैं.

किओस्क बैंकिंग की फायदे:-

लंबी लाइनों से मिलेगी निजात:-

जिन क्षेत्रों में बैंक की केवल एक ही शाखा उपलब्ध होती है उन इलाकों में लोग बैंक के कार्यों के लिए लंबी लाइनों में खड़े रहते हैं जिसमें उनका बहुत ही ज्यादा टाइम बर्बाद होता है इसलिए यदि इन इलाकों में किओस्क बैंकिंग खोली जाए तो बैंक की भीड़ से लोग बचेंगे और उनका कार्य कम समय में पूरा हो सकेगा.

जिन लोगों को इमीडीएटली पैसे निकालने होते हैं उन्हें लंबी लाइनों की वजह से देरी हो जाती है जिससे उनके कई कार्यों में नुकसान होती है इसलिए यदि किओस्क बैंकिंग की सुविधा  इन लोगों को दी जाए तो उन लोगों का समय बचेगा और वे आसानी पूर्वक अपने कार्य कर सकेंगे.

लोगों को मिल सकेगी बैंक की सुविधा:-

हमारे भारत देश में कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां एक भी बैंक की शाखा उपलब्ध नहीं है जिससे लोग बैंकों की कार्यों से वंचित रह जाते हैं इसलिए यदि इन क्षेत्रों में किओस्क बैंक खोली जाए तो इन लोगों को बैंक की सुविधाएं दी जा सकती है.

कमा सकते हैं अधिक पैसे:-

जो लोग कंप्यूटर तथा इंटरनेट से संबंधित कार्य कर रहे हैं और वह अपने बिजनेस को और बड़ा कर ज्यादा पैसा कमाना चाह रहे हैं तो यदि वे लोग किओस्क बैंकिंग के साथ जुड़कर लोगों के खाता खुलवाने का कार्य करें तो इनसे वह अधिक पैसे कमा सकते हैं.

किओस्क बैंकिंग से जुड़ने के लिए ग्राहकों को खाता खुलवाने और पढ़ते हैं और इन खातों को यदि आप आते हैं तो आप को काफी लाभ होगा.

ग्राहकों की संख्या बढ़ेगी:-

जिन क्षेत्रों में बैंकों की सुविधा नहीं दी गई है वह लोग बैंक की सुविधाओं का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं यदि उन क्षेत्रों में किओस्क बैंक खोला जाए तो अधिक से अधिक संख्या में लोग बैंकों से जुड़ेंगे जिससे बैंक के साथ-साथ किओस्क बैंकिंग में कार्य कर रहे हैं लोगों को भी काफी फायदा होगा.

उद्देश्य:-

किओस्क बैंकिंग का उद्देश्य क्षेत्रों में बैंक की सुविधाएं प्रदान करना है जहां बैंक की कोई शाखा उपलब्ध नहीं है ताकि ज्यादा से ज्यादा संख्या में लोग बैंकों से जुड़े रहें और अपने बैंक के सभी कार्यों को किओस्क बैंक के माध्यम से करके बैंकों की सुविधाओं का लाभ उठा सकें.

भारत के ऐसे कई क्षेत्र हैं जहां किओस्क बैंक खोलकर लोगों को बैंकों की सुविधाएं दी जा रही है जिसके माध्यम से लोग पैसे का लेनदेन और बैंक के अन्य कार्य भी इसी बैंक के माध्यम से कर रहे.

किओस्क बैंकिंग के द्वारा दी जाने वाली सेवा:-

किओस्क बैंकिंग एक ग्राहक सेवा केंद्र है जिसके द्वारा बैंक से संबंधित कई प्रकार की सेवाएं ग्राहकों को प्रदान की जाती है जो निम्नलिखित है:-

किओस्क बैंक होने से लोग बैंकों में ना जाकर इस सेवा केंद्र के माध्यम से पैसे अपने खाता में जमा कर सकते हैं लेकिन किओस्क बैंक के माध्यम से एक बार में ₹50000 ही जमा की जाती है इससे अधिक जमा करने के लिए आपको बैंक जाना होगा.

किओस्क बैंक होने से लोग बैंकों की सारी क्रियाएं इसी केंद्र के द्वारा करते हैं इस बैंक के माध्यम से लोग पैसे भी निकालते हैं लेकिन एक बार में सिर्फ ₹10000 ही निकाले जा सकते हैं यदि आपको ज्यादा रकम निकालने हैं तो इसके लिए आपको बैंक जाने की आवश्यकता पड़ेगी.

यदि किसी व्यक्ति को खाता खुलवाने होते हैं तो वह किओस्क बैंक के माध्यम से खाता खुलवा सकते हैं इसके लिए आपको फोटो और फिंगरप्रिंट के साथ-साथ खाता खुलवाना के सारे डाक्यूमेंट्स देने होंगे तब आपकी अकाउंट बैंक में किओस्क बैंक के माध्यम से खुल जाएगी.

यदि आपको किसी के अकाउंट में पैसा लगवाने हैं तो आप किस को बैंक के माध्यम से यह कार्य कर सकते हैं क्योंकि इसकी सेवा या बैंक देती है.

बैंक द्वारा दी जाने वाली मशीन:-

यदि आप किओस्क बैंक खोलने का विचार विमर्श कर रहे हैं तो आपको बता दें कि यदि आप इस कियोस्क बैंक को खोलेंगे तो जिस भी बैंक का किओस्क बैंक आप अपने क्षेत्र में खोलेंगे तो उस बैंक के माध्यम से आपको एक मशीन प्रोवाइड की जाती है जिसके माध्यम से आप ग्राहकों की फिंगरप्रिंट और खाता खुलवा के समय फोटो ले सकते हैं इसके साथ साथ सॉफ्टवेयर को चलाने के लिए वेब सॉफ्टवेयर भी प्रदान किया जाता है.

किओस्क बैंकिंग के जरिए कमाई कैसे की जाती है?

जो भी व्यक्ति किओस्क बैंकिंग को चलाते हैं उनकी कमाई कमीशन पर निर्भर निर्भर रहती है. कई लोग बैंक मित्र बनकर इसके उसको बैंक को चलाते हैं तो कोई अपनी योग्यता के अनुसार किओस्क बैंक अपने क्षेत्रों में खोलकर ग्राहकों को सेवा प्रदान करते है बैंक मित्र को सैलरी के साथ कमीशन मिलता है लेकिन जो लोग खुद से किओस्क बैंकिंग खोलते हैं उनकी कमाई सिर्फ कमीशन के अनुसार ही होती है.

लोग जिस भी बैंक का किओस्क बैंक चलाते हैं उन्हें उस बैंक के द्वारा कमीशन मिलता है इसके साथ साथ पैसों की लेनदेन अर्थात ग्राहकों के द्वारा पैसे डालने और निकलवाने में भी इनको 0.5% कमीशन मिलता है इस प्रकार इस फील्ड में कमीशन के आधार पर कमाई की जाती है.

महत्वपूर्ण दस्तावेज:-

किओस्क बैंक खोलने के लिए  फॉर्म अप्लाई करना पड़ता है और फॉर्म अप्लाई करते वक्त कुछ आवश्यक डाक्यूमेंट्स की मांग की जाती है जो निम्नलिखित है:-

  • पेन कार्ड, आधार कार्ड
  • आईडी प्रूफ जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, मतदाता आईडी, पासपोर्ट.
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो.
  • निवासी प्रमाण पत्र जैसे राशन कार्ड बिजली बिल
  • दुकान का एड्रेस जहां बैंकिंग शुरू करना चाहते हैं.

इस प्रकार इन सभी डॉक्यूमेंट के साथ आपके इश्क बैंकिंग खोलने के लिए आवेदन कर सकते हैं.

किओस्क बैंकिंग के लिए अप्लाई कैसे करें?

यदि आप किओस्क बैंकिंग खोलना चाहते हैं तो इसे खोलने के लिए पहले आवेदन करना होता है तो वैसे बैंक शाखा से जाकर संपर्क करें जो बैंक किओस्क बैंकिंग की सेवा प्रदान करती है, ऐसे बैंक में जाकर पता करें और इसके लिए फॉर्म भरकर सबमिट कर दें.

इसके साथ साथ आजकल किओस्क बैंक का  आवेदन इसकी ऑफिशियल वेबसाइट में जाकर कर सकते हैं. किओस्क बैंकिंग सेवा के लिए कई फेक लिंक भी होती है इसलिए सतर्क रहें और सही वेबसाइट में जाकर आवेदन करें.

ऐसी कई वेबसाइट है जिसके जरिए आप आवेदन कर सकते हैं:-

पे प्वाइंट इंडिया:-

पे पॉइंट ऑफ इंडिया एक ऐसी वेबसाइट है जिसके माध्यम से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया द्वारा किओस्क बैंकिंग के लिए अप्लाई किया जा सकता है.

समर इन्फो टेक:-

समर इन्फो टेक एक वेबसाइट है  जिसके माध्यम से बैंक ऑफ इंडिया बैंक ऑफ़ बरोदा, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया इन सभी के द्वारा किओस्क बैंकिंग के लिए आवेदन किया जाया है.

माय ऑक्सीजन:-

यह एक कंपनी है जिसमें स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के द्वारा किओस्क बैंकिंग की सुविधाएं दी जाती है, योग्य कैंडिडेट स्टेट बैंक ऑफ इंडिया द्वारा किओस्क बैंक खोल कर लोगों को बैंकों की सारी सुविधाएं प्रदान करा सकते हैं. इसके लिए इस वेबसाइट में जाकर आवेदन किया जा सकता है.

निष्कर्ष

किओस्क बैंकिंग खोलना भविष्य के लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है क्योंकि लोग बैंकों में ना जाकर इस किओस्क बैंकिंग के माध्यम से बैंकों की सारी क्रियाकलापों को करते हैं.

हमने इस पोस्ट में आपको जानकारी दी की Kiosk banking क्या है (What is Kiosk Banking in Hindi) तथा इसे शुरू कैसे करें?

यदि आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो आप इसे अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें.

Wasim Akram

वसीम अकरम WTechni के मुख्य लेखक और संस्थापक हैं. इन्होंने इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है लेकिन इन्हें ब्लॉगिंग और कैरियर एवं जॉब से जुड़े लेख लिखना काफी पसंद है.

Leave a Comment

x