Jharkhand Weather Update : झारखंड में अगले पांच दिन कैसा रहेगा मौसम, पढ़ लें IMD का नया अपडेट

झारखंड में मानसून का आगमन: झारखंड में मानसून पूरी तरह से सक्रिय हो चुका है। हालांकि, अबतक सामान्य से 50 प्रतिशत कम बारिश रिकॉर्ड की गई है। पाकुड़ जिले में सबसे कम बारिश दर्ज की गई है, जबकि सिमडेगा में सबसे अच्छी बारिश हुई है। मौसम विभाग ने आगामी दिनों के लिए अपने पूर्वानुमान जारी किए हैं, जिससे जनता को सावधान रहने की सलाह दी गई है।

रांची में अगले पांच दिनों की बारिश की संभावना

राजधानी रांची में अगले पांच दिनों तक हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश की संभावना जताई गई है। दिनभर बादल छाए रहेंगे और बारिश के कारण न्यूनतम तापमान में एक से दो डिग्री की गिरावट आ सकती है। मौसम विज्ञानी अभिषेक आनंद के अनुसार, राजधानी में दोपहर के बाद अच्छी बारिश की संभावना है, जिससे लोगों को राहत मिल सकती है।

तापमान के बदलाव की जानकारी

शुक्रवार को राजधानी का अधिकतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। जमशेदपुर का अधिकतम तापमान 34 डिग्री और न्यूनतम तापमान 26 डिग्री दर्ज किया गया। मौसम विज्ञानी अभिषेक आनंद ने बताया कि अगले पांच दिनों तक अधिकतम तापमान में कोई बदलाव नहीं होगा। हालांकि, शाम को बारिश होने की संभावना है, जिससे हल्की ठंड महसूस हो सकती है।

किसानों के लिए सुझाव

मौसम विज्ञानी अभिषेक आनंद ने किसानों को सलाह दी है कि वे जुलाई में अच्छी बारिश की संभावना को देखते हुए रोपनी की शुरुआत कर सकते हैं। इस साल अच्छी फसल होने की संभावना है, जिससे किसानों को लाभ होगा।

पाकुड़ में सबसे कम बारिश

पाकुड़ जिले में अब तक सामान्य से 78 प्रतिशत कम बारिश दर्ज की गई है। यह झारखंड के बाकी जिलों की तुलना में सबसे कम है। इससे कृषि पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है, लेकिन मौसम विभाग का कहना है कि आगामी दिनों में बारिश की कमी को पूरा किया जा सकता है।

सिमडेगा में अच्छी बारिश

सिमडेगा जिले में अब तक सामान्य से केवल 15 प्रतिशत कम बारिश दर्ज की गई है। यह झारखंड के बाकी जिलों की तुलना में बेहतर स्थिति में है। अच्छी बारिश से सिमडेगा के किसानों को फसल उगाने में सहायता मिलेगी और उनकी आय में वृद्धि हो सकती है।

मौसम का पूर्वानुमान

मौसम विभाग के अनुसार, जुलाई में झारखंड में अच्छी बारिश की संभावना है। इससे कृषि कार्यों में तेजी आएगी और फसलों की उत्पादकता बढ़ेगी। लोगों को सलाह दी गई है कि वे मौसम के पूर्वानुमान को ध्यान में रखते हुए अपने दैनिक कार्यों की योजना बनाएं।

झारखंड की मौसमी स्थिति

झारखंड में मानसून की गतिविधियों को देखते हुए, यह महत्वपूर्ण है कि लोग मौसम के पूर्वानुमान को नियमित रूप से जांचें और आवश्यक तैयारी करें। खासकर किसानों के लिए यह जानकारी अत्यंत महत्वपूर्ण है, ताकि वे अपनी खेती की योजना को सही तरीके से बना सकें और अच्छी फसल प्राप्त कर सकें।

निष्कर्ष

झारखंड में मानसून सक्रिय हो चुका है और अगले पांच दिनों तक बारिश की संभावना है। तापमान में कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं होगा, लेकिन शाम को हल्की ठंड महसूस हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार, जुलाई में अच्छी बारिश की संभावना है, जिससे किसानों को लाभ होगा और प्रदेश में अच्छी फसल होने की उम्मीद है।

Leave a Comment